जिला न्यायालय के बाद अब तहसील कार्यालय में चोरी, अपराधियों के हौसले बुलंद…..कही भी दे सकते है वारदातों को अंजाम

रमेश राजपूत

बिलासपुर – न्यायधानी में इन दिनों संपत्ति संबंधी अपराधों की बाढ़ सी आ गई है, कही भी कभी भी चोरी, लूट जैसी घटनाएं हो सकती है, जिससे लगता है कि अब कानून की पकड़ ढ़ीली पड़ चुकी है, हालांकि घटनाओं के बाद ट्रेसिंग का काम पुलिस जरूर करती है, जिसमें ज्यादातर मामले अब भी जांच में ही चल रहे है। जिले जिला न्यायालय में चोरी की घटना का सफल खुलासा तो पुलिस करने में सफल हो गई लेकिन इसके बाद अब तहसील में चोरी की घटना को अंजाम देकर चोरों ने फिर से पुलिस को खुली चुनौती दी है। मिली जानकारी के अनुसार तहसील कार्यालय में नकल शाखा प्रभारी एस एल कुर्रे ने सिविल लाइन थाने में शिकायत दर्ज कराई है कि 11 अक्टूबर की शाम उन्होंने अपनी आलमारी में ताला बंद कर घर चले गए थे, जो सुबह अपने कार्यालय नकल शाखा के कमरे में आलमारी के पास पहुँचे तो पाया आलमारी का ताला टूटा हुआ था उसके अंदर मे रखा शासकीय रकम 10 हजार रूपये, चालान की कापी एवं उनके स्वयं का बैक पास बुक एवं चेक बुक बैग मे रखा था जो नही था। मामले में उन्होंने अज्ञात चोरों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है, जिस पर पुलिस अज्ञात के खिलाफ धारा 380-IPC, 457-IPC के तहत अपराध दर्ज कर जांच में जुट गई है।

error: Content is protected !!